गंगूबाई काठियावाड़ी की बायोग्राफी

Share on:

This post has already been read 55 times!

Gangubai Kathiyawadi Biography In Hindi: पहले के समय में ऐसे बहुत से लोग थे, जिन्होंने अपने जीवन में काफी संघर्ष किया है। उन्होंने अपने जीवन को बेहतर बनाने के लिए कई सारे मुश्किलों का सामना भी किया है।  उन्हीं लोगों में से एक है गंगूबाई काठियावाड़ी। आप में से बहुत से लोगों ने इनका नाम तो सुना ही होगा। वर्तमान समय में इनके जीवन पर एक बॉलीवुड फिल्म भी बनाई गई है, जिनके माध्यम से इनके जीवन में घटी सभी घटनाओं को विस्तार पूर्वक दिखाया गया है।

वैसे तो गंगूबाई काठियावाड़ी पहले एक साधारण लड़की थी। परंतु समय और हालात के कारण उन्हें एक अलग ही पहचान मिल गया। गंगूबाई एक बहुत ही संघर्षपूर्ण महिला थी, इन्होंने अपने जीवन में कई सारी परेशानियों का सामना डटकर किया है। यह एक ऐसी महिला है जिन्होंने अपने जीवन में बहुत से दयनीय स्थिति का सामना किया और एक वेश्या के रूप में मशहूर हुई। तो आइए गंगूबाई काठियावाड़ी के जीवन परिचय (Gangubai Kathiyawadi Biography In Hindi) के बारे में विस्तार पूर्वक जानते हैं।

गंगूबाई काठियावाड़ी का जीवन परिचय: Gangubai Kathiyawadi Biography In Hindi

Gangubai Kathiyawadi Biography In Hindi
  • पूरा नाम    –           गंगा हरजीवन दास काठियावाड़ी
  • अन्य नाम   –          गंगूबाई
  • निक नाम   –          गंगू
  • पेशा         –            कोठा चलाना, माफिया क्वीन, लेडी डॉन
  • जन्म           –        1939
  • जन्म स्थान –          काठियावाड़, गुजरात
  • गृहनगर     –          काठियावाड़
  • जाति.      –             गुजराती
  • राष्ट्रीयता    –           भारतीय
  • शैक्षिक योग्यता –  12वी
  • वैवाहिक स्थिति – वैवाहिक
  • पति का नाम  –      रमणीक

गंगूबाई काठियावाड़ी जोकि पेशे से एक वैश्या थी, उनका जन्म सन 1939 को काठियावाड़ गुजरात में हुआ था। गंगू बाई का जन्म काठियावाड़ नामक स्थान पर हुआ था इसीलिए उन्हें गंगूबाई काठियावाड़ी के नाम पर जाना जाता है।  वे गुजरात के एक सम्मानित परिवार की इकलौती बेटी थी, इनके परिवार में किसी भी चीज की कमी नहीं थी परंतु गंगूबाई के सपने कुछ और ही थे।

गंगूबाई एक बहुत ही अच्छी लड़की थी, परंतु हालात और परिस्थितियों ने उन्हें एक अपराधी, वेश्या, डॉन, बिजनेस वूमेन बना दिया। इन्होंने अपने जीवन के कठिन परिस्थितियों को अपनाकर अपना एक अलग पहचान स्थापित किया था। जिसके कारण साठ के दशक तक वे एक डॉन के रूप में राज करती थी। इसके साथ ही साथ वे अपना कोठा भी चलाया करती थी जिसका पूरे देश में कई सारे अलग-अलग ब्रांच भी स्थापित थे।

गंगूबाई काठियावाड़ी का प्रारंभिक जीवन

Gangubai Kathiyawadi Biography In Hindi

जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया कि गंगूबाई काठियावाड़ी का जन्म सन 1939 में एक गुजराती परिवार में हुआ था। इनका जन्म एक संपन्न परिवार में हुआ था, जिनके सोच विचार काफी उच्च थे। गंगूबाई अपने परिवार की इकलौती बेटी और उनके परिवार के हर एक सदस्य सम्मानजनक परिवार के थे, जो कि बेटियों के प्रति काफी अच्छे विचारधारा वाले थे।

वे बेटियों को पढ़ा लिखा कर आगे बढ़ाने में विश्वास रखते थे। गंगूबाई के परिवार वाले उन्हें पढ़ा लिखा कर कुछ बनाना चाहते थे, परंतु गंगूबाई के सपने तो कुछ और ही थे। उनका पढ़ाई में बिल्कुल भी मन नहीें लगता था, उन्हें शुरू से ही एक हीरोइन बना था। वे हमेशा से ही फिल्मों के पर्दे पर चमकना चाहती थी जिसके लिए वे मुंबई जाने की भी बात किया करती थी।

गंगूबाई एक बहुत ही भोली भाली लड़की थी। गंगूबाई के पिता एक दुकानदार थे और उन्होंने अपने दुकान पर एक अकाउंटेंट रखा था, जिसका नाम रमणिकलाल था और वे मुंबई का निवासी था। 16 साल की भोली भाली गंगा अपने से अधिक उम्र के लड़के से प्यार कर बैठती हैं, जिसके कारण वे अपने घर वालों के खिलाफ जाकर उससे शादी कर लेती हैं।

गंगा शुरू से ही मुंबई जाकर एक मशहूर अभिनेत्री बनना चाहती थी, और उन्होंने जिस लड़के से शादी किया था वह भी मुंबई का ही रहने वाला था। गंगा ने रमणिकलाल के साथ भाग कर शादी करने के बाद सीधे मुंबई चली गई। और मुंबई जाते ही वे अपना सपना पूरा करने के बारे में सोचने लगी। परंतु धीरे-धीरे गंगा और रमणिकलाल के बीच में मतभेद बढ़ने लगी और रमणिकलाल को पैसे की कमी भी सताने लगी। जिसके कारण रमणीक लाल ने गंगा से झूठ बोलकर केवल ₹500 में गंगा को मुंबई के मशहूर रेड लाइट एरिया कमाठीपुरा के एक कोठे वाली को बेच दिया।

कुछ दिन रहने के बाद गंगा को सच्चाई का पता चलता है और उसे अपना पूरा जीवन वही व्यतीत करना पड़ता है। कोठे में गंगा के साथ बहुत सारे  दर्दनाक घटनाएं होते हैं। परंतु गंगा उन सभी परिस्थितियों का सामना करके एक साहसी महिला के रूप में उभरीं और गंगूबाई काठियावाड़ी के रूप में मशहूर हुईं।

गंगूबाई काठियावाड़ी के बारे में कुछ रोचक तथ्य

Gangubai Kathiyawadi Biography In Hindi

गंगूबाई काठियावाड़ी का जीवन काफी साहस पूर्ण रहा है, इन्होंने अपने जीवन में बहुत से कठिन परिस्थितियों का सामना किया है। तो आइए इनके जीवन से जुड़े हुए कुछ रोचक तथ्यों के बारे में जानते हैं-

1.गंगूबाई का शुरू में पूरा नाम गंगा हरजीवनदास काठियावाड़ी था। परंतु मुंबई के रेड लाइट एरिया में जाने के बाद वे गंगू नाम से प्रसिद्ध हुई।

2. गंगूबाई एक अच्छी अभिनेत्री बनना चाहती थी, परंतु हालात ने उन्हें एक वैश्या, डॉन, माफिया, बना दिया।

3. गंगूबाई के जीवन में बहुत से असाधारण परिस्थितियां आई है, और उनके जीवन में घटी घटनाओं के कारण उन्हें मुंबई के डॉन की बहन बना दिया गया था।

4.मुंबई के डॉन करीम खान की मुंह बोली बहन होने के कारण वह भी मुंबई के लेडी डॉन के रूप में जानी जाने लगी।

5. गंगूबाई ने अपने जीवन में घटी कठिन परिस्थितियों का सामना काफी साहस पूर्ण तरीके से किया, जिसके कारण आगे चलकर उनका नाम माफ़िया क्वीन ऑफ मुंबई की किताब में शामिल किया गया।

6.गंगूबाई एक बिजनेस वूमेन भी थी। जोकि वेश्याओं के साथ-साथ  मुंबई में रहने वाले बहुत से अनाथ बच्चों के लिए अलग-अलग तरह के काम किए और उन्हें सुविधाएं भी पहुंचाए हैं।

7. गंगूबाई ने मुंबई में वेश्याओं के खिलाफ आंदोलन भी किया है जिसका नेतृत्व उन्होंने स्वयं किया है।

8.जाने-माने लेखक और पत्रकार एस हुसैन जैदी जी द्वारा गंगूबाई के जीवन गाथा को एक किताब के रूप में लिखा गया है, जिसका नाम ‘माफिया क्वीन्स ऑफ मुंबई’ है।

9. गंगूबाई ने अपने जीवन में बहुत संघर्ष किए हैं, जिसके कारण आज के समय में इनके साहस पूर्ण जीवन की कथा को बॉलीवुड पर्दो पर दर्शाया गया है।

गंगूबाई काठियावाड़ी बॉयोपिक फिल्म

गंगूबाई के जीवन की संपूर्ण कथा को अब जल्द ही बॉलीवुड के बड़े परदे पर दिखाया जाएगा। बॉलीवुड के मशहूर डायरेक्टर संजय लीला भंसाली इस फिल्म को खुद डायरेक्ट कर रहे है। इस फ़िल्म में आलिया भट्ट को गंगूबाई के किरदार में दिखाया जाएगा।

निष्कर्ष

आज हमने आप सभी को अपने इस आर्टिकल के माध्यम से गंगूबाई काठियावाड़ी के जीवन परिचय (Gangubai Kathiyawadi Biography In Hindi) के बारे में जानकारी देने का प्रयास किया है। उम्मीद है कि आप सभी को हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा, और आप सभी को हमारे इस आर्टिकल के जरिए गंगूबाई काठियावाड़ी के जीवन परिचय (Gangubai Kathiyawadi Biography In Hindi) के बारे में काफी अच्छी जानकारी प्राप्त हुई होगी।